Skip to content

हनुमान चालीसा हिंदी में pdf | Hanuman Chalisa pdf

इस पोस्ट में हनुमान चालीसा हिंदी में pdf अपलोड किया है। आशा करता हूँ आपको पसंद आएगा। यह Hanuman Chalisa pdf आप अपने मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटाँप किसी भी डिवाइस पर रख सकते हैं और रोजाना हनुमान चालीसा का पाठ कर के अपने दुःखों से छुटकारा प्राप्त कर सकते है। और जो कोई भी हनुमान चालीसा का पाठ करता है उसकी हनुमान जी सभी संकटो से रक्षा करते हैं।

हनुमान चालीसा हिंदी में pdf (Hanuman Chalisa pdf)

PDF Nameहनुमान चालीसा हिंदी में pdf | Hanuman Chalisa pdf
हनुमान चालीसा हिंदी में pdf
No. of Pages4
PDF Size202 KB
LanguageHindi
CategoryReligion & Spirituality
SourceHindiReadDuniya.com
Download LinkAvailable ✔
DownloadsYes
हनुमान चालीसा हिंदी में pdf | Hanuman Chalisa pdf


👉यह भी पढ़ें: संकटमोचन हनुमानअष्टक पाठ pdf

असली हनुमान चालीसा pdf

यहाँ पर असली हनुमान चालीसा लिखा गया है। आप इसका पाठ करकें श्री हनुमान जी की असीम कृपा के भागीदार बन सकते हैं। क्योंकि हनुमान जी अपने भक्तों की हर तरह के संकट से रक्षा करते हैं।

|| दोहा ||

श्रीगुरु चरन सरोज रज, निज मनु मुकुरु सुधारि।
बरनऊं रघुबर बिमल जसु, जो दायकु फल चारि।।

क्लिक करों 👉   King of The Underworld RJ Kane pdf Free Download

बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन-कुमार।
बल बुद्धि बिद्या देहु मोहिं, हरहु कलेस बिकार।।

|| चौपाई ||

जय हनुमान ज्ञान गुन सागर।
जय कपीस तिहुं लोक उजागर।०१।

रामदूत अतुलित बल धामा।
अंजनि-पुत्र पवनसुत नामा।०२।

महाबीर बिक्रम बजरंगी।
कुमति निवार सुमति के संगी।०३।

कंचन बरन बिराज सुबेसा।
कानन कुंडल कुंचित केसा।०४।

हाथ बज्र औ ध्वजा बिराजै।
कांधे मूंज जनेऊ साजै।०५।

संकर सुवन केसरीनंदन।
तेज प्रताप महा जग बन्दन।०६।

विद्यावान गुनी अति चातुर।
राम काज करिबे को आतुर।०७।

प्रभु चरित्र सुनिबे को रसिया।
राम लखन सीता मन बसिया।०८।

सूक्ष्म रूप धरि सियहिं दिखावा।
बिकट रूप धरि लंक जरावा।०९।

भीम रूप धरि असुर संहारे।
रामचंद्र के काज संवारे।१०।

लाय सजीवन लखन जियाये।
श्रीरघुबीर हरषि उर लाये।११।

रघुपति कीन्ही बहुत बड़ाई।
तुम मम प्रिय भरतहि सम भाई।१२।

सहस बदन तुम्हरो जस गावैं।
अस कहि श्रीपति कंठ लगावैं।१३।

सनकादिक ब्रह्मादि मुनीसा।
नारद सारद सहित अहीसा।१४।

जम कुबेर दिगपाल जहां ते।
कबि कोबिद कहि सके कहां ते।१५।

तुम उपकार सुग्रीवहिं कीन्हा।
राम मिलाय राज पद दीन्हा।१६।

तुम्हरो मंत्र बिभीषन माना।
लंकेस्वर भए सब जग जाना।१७।

जुग सहस्र जोजन पर भानू।
लील्यो ताहि मधुर फल जानू।१८।

प्रभु मुद्रिका मेलि मुख माहीं।
जलधि लांघि गये अचरज नाहीं।१९।

दुर्गम काज जगत के जेते।
सुगम अनुग्रह तुम्हरे तेते।२०।

राम दुआरे तुम रखवारे।
होत न आज्ञा बिनु पैसारे।२१।

सब सुख लहै तुम्हारी सरना।
तुम रक्षक काहू को डर ना।२२।

आपन तेज सम्हारो आपै।
तीनों लोक हांक तें कांपै।२३।

भूत पिसाच निकट नहिं आवै।
महाबीर जब नाम सुनावै।२४।

नासै रोग हरै सब पीरा।
जपत निरंतर हनुमत बीरा।२५।

संकट तें हनुमान छुड़ावै।
मन क्रम बचन ध्यान जो लावै।२६।

क्लिक करों 👉   संपूर्ण श्री हनुमान बाहुक pdf | हनुमान बाहुक पाठ अर्थ सहित पीडीएफ

सब पर राम तपस्वी राजा।
तिन के काज सकल तुम साजा।२७।

और मनोरथ जो कोई लावै।
सोइ अमित जीवन फल पावै।२८।

चारों जुग परताप तुम्हारा।
है परसिद्ध जगत उजियारा।२९।

साधु-संत के तुम रखवारे।
असुर निकंदन राम दुलारे।३०।

अष्ट सिद्धि नौ निधि के दाता।
अस बर दीन जानकी माता।३१।

राम रसायन तुम्हरे पासा।
सदा रहो रघुपति के दासा।३२।

तुम्हरे भजन राम को पावै।
जनम-जनम के दुख बिसरावै।३३।

अन्तकाल रघुबर पुर जाई।
जहां जन्म हरि-भक्त कहाई।३४।

और देवता चित्त न धरई।
हनुमत सेइ सर्ब सुख करई।३५।

संकट कटै मिटै सब पीरा।
जो सुमिरै हनुमत बलबीरा।३६।

जै जै जै हनुमान गोसाईं।
कृपा करहु गुरुदेव की नाईं।३७।

जो सत बार पाठ कर कोई।
छूटहि बंदि महा सुख होई।३

जो यह पढ़ै हनुमान चालीसा।
होय सिद्धि साखी गौरीसा।३९।

तुलसीदास सदा हरि चेरा।
कीजै नाथ हृदय मंह डेरा।४०।

|| दोहा ||

पवन तनय संकट हरन, मंगल मूरति रूप।
राम लखन सीता सहित, हृदय बसहु सुर भूप।।

सियावर रामचंद्र की जय। पवनसुत हनुमान की जय। बोलो भाई सब संतन की जय।

1080p hanuman chalisa hd image pdf


FAQs: (हनुमान चालीसा) Hanuman Chalisa

प्रश्न: हनुमान चालीसा क्या है?

उत्तर: हनुमान चालीसा एक प्रसिद्ध हिंदी भजन है जो संत तुलसीदास जी द्वारा रचित किया गया है। यह भजन महाकाव्य श्री रामचरितमानस के एक अंश को संकलित करता है और हनुमानजी की महिमा और गुणों का वर्णन करता है।

प्रश्न: हनुमान चालीसा को किसने गाया है?

उत्तर: हनुमान चालीसा को गाया गया है श्री गुलशन कुमार जी के द्वारा। उन्होंने इस भजन को अपनी भावपूर्ण आवाज़ में गाकर लोगों को भक्ति और आनंद का अनुभव कराया है। उनकी गायन की गहराई और भक्ति भाव भरी प्रस्तुति द्वारा हमें हनुमानजी के करुणा स्वरूप को प्राप्त करने का मौका मिलता है।

क्लिक करों 👉   Hanuman Ashtak in Hindi PDF | संकटमोचन हनुमानअष्टक पाठ pdf

प्रश्न: क्या मुझे हनुमान चालीसा की PDF खरीदने की आवश्यकता है?

उत्तर: नहीं, आप हनुमान चालीसा का PDF बिना किसी खरीद के भी डाउनलोड कर सकते हैं। इंटरनेट पर आप PDF9.in से मुफ्त में डाउनलोड कर सकते हैं। इससे आप किसी समय हनुमान चालीसा की पाठ कर सकते हैं और उसके द्वारा हनुमानजी की कृपा और आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं।

प्रश्न: हनुमान चालीसा को रोज़ाना पढ़ने से क्या फायदे होते हैं?

उत्तर: हनुमान चालीसा को रोज़ाना पढ़ने से हमें अनेक फायदे होते हैं। इसके पाठ से हमारा मन और आत्मा शांति प्राप्त करते हैं और हमें आध्यात्मिक उन्नति का मार्ग दिखाता है। यह हमें शक्ति और साहस प्रदान करता है, भय को दूर करता है और संघर्षों को परिघट करने में सहायता करता है। हनुमानजी की कृपा प्राप्त करने के लिए, इसे नियमित रूप से पढ़ना बहुत महत्वपूर्ण होता है।

प्रश्न: क्या हनुमान चालीसा को सुनकर हमारे जीवन में बदलाव आ सकता है?

उत्तर: जी हां, हनुमान चालीसा को सुनकर हमारे जीवन में बदलाव आ सकता है। जब हम इस भजन को ध्यान से सुनते हैं और उसके शब्दों को हृदय से महसूस करते हैं, तो हनुमानजी की कृपा और संरक्षण का अनुभव होता है। यह भजन हमें असाधारण शक्ति और उर्जा प्रदान करता है और हमें अपने जीवन के मुश्किल समयों में सहायता करता है। हमारे मन, शरीर और आत्मा को संतुलित करके, यह भजन हमें आध्यात्मिक आनंद और प्रगटी का अनुभव कराता है।

दोस्तों इस पोस्ट में हमने हनुमान चालीसा हिंदी में pdf शेयर किया है। आप Hanuman Chalisa pdf बिल्कुल फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं।

Share this post on social!
nv-author-image

Rohit Soni

Hi! We’re PDF9.in. A dedicated portal where one can download any kind of PDF files for free, with just a single click. यदि किसी भी प्रकार की कॉपीराइट सामग्री हमारे वेबसाइट पर है तो कृपया आप हमें जरूर मेल करे 48 घंटे के अंदर उसे डिलीट कर दूंगा- RohitRemove@gmail.com If any kind of copyrighted material is on our website, please mail us, I will delete it within 48 hours.View Author posts

2 thoughts on “हनुमान चालीसा हिंदी में pdf | Hanuman Chalisa pdf”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *